www.poetrytadka.com

Mere ibadto ko qabool kar

Last Updated
मेरी इबादतों को ऐसे कबूल कर ऐ मेरे.खुदाकि सजदों में मैं झुकूँ !
और..मुझसे जुड़ेहर रिश्ते की.ज़िन्दगी संवर जाए !!