www.poetrytadka.com

mai zmane se nahi hara

ना छेड किस्सा-ए-उल्फत बडी लम्बी कहानी है !
मैं ज़माने से नहीं हारा किसी की बात मानी है !!