www.poetrytadka.com

mai nadan tha

जो मिलते हैं, वो बिछड़ते भी हैं हम नादान थे !
जो तीन मुलाकात को जिंदगी समझ बैठे !!