www.poetrytadka.com

kyu udas baithe ho

क्यों उदास बैठे हो इस तरह अंधेरे मे !
दुख कम नहीं होते रोशनी बुझाने से !!