www.poetrytadka.com

kya jarurat hai swarne ki

kya jarurat hai swarne ki

हुस्न वालों को क्या जरूरत है संवरने की !
वो तो सादगी में भी क़यामत की अदा रखते हैं !!