www.poetrytadka.com

khata kuch nahi

किसी को मेरे बारे में...पता कुछ भी नही !
इल्जाम हजारों है ✻और खता.. कुछ भी नही !!