www.poetrytadka.com

khamoosh ho gae

वो सुना रही थी अपनी वफाओ के किस्से !
हम पर नज़र पड़ी तो खामोश हो गई !!