www.poetrytadka.com

Khairaat Me Mili Khushi

खैरात में मिली ख़ुशी हमें अच्छी नहीं लगती !
हम अपने दुखों में रहते हैं नवाबों की तरहं !!