www.poetrytadka.com

Kaise bhulega wo

कैसी भूलेगा वो मेरी बरसो की चाहत !! दरिया अगर सुख भी जाय तो रेत में नमी नहीं जाती !!