jo rat maine gujari tdap ke

jo rat maine gujari tdap ke

कहीं किसी रोज़ यूँ भी होता, 

हमारी हालत तुम्हारी होती, 

जो रात हमने गुज़ारी तड़प कर, 

वो रात तुमने गुज़ारी होती

मुख्य पेज पर वापस जाए