www.poetrytadka.com

jis chand ko

जिस "चाँद" के हजारों हो चाहने वाले दोस्त !
वो क्या समझेगा एक सितारे कि कमी को !!

हिन्दी शायरी