www.poetrytadka.com

jaroori hai

जरुरी है तेरे अहसास मेरे अल्फ़ाजों के लिये !
तुम बिन हर शायरी अधुरी है मेरी !!