www.poetrytadka.com

jab tak tujhe na dekhu

Last Updated

जब तक तुम्हें न देखूं!

दिल को करार नहीं आता!

अगर किसी गैर के साथ देखूं!

तो फिर सहा नहीं जाता!