www.poetrytadka.com

itna roya meri mut pe

इतना रोया मेरी मौत पे मुझे जगाने के लिए !
मे मरता ही क्यूं अगर वो रो देता मुझे पाने के लिए !!