www.poetrytadka.com

I miss you

I miss you

नींद से क्या शिकवा जो आती नहीं I
कसूर तो उस चहेरे का है जो सोने नहीं देता II I miss you