www.poetrytadka.com

Hum Wahi Hai

Hum Wahi Hai
हम वही हैं, बस जरा ठिकाना बदल गया हैं अब, तेरे दिल से निकल कर, अपनी औकात में रहते हैं।