www.poetrytadka.com

Ho naa jaae hushn ki shan me gushtakhi khi

Last Updated
हो ना जाए हुश्न की शान में गुस्ताखी कही !
तुम चले जाओ तुम्हे देख कर प्यार आता है !!