www.poetrytadka.com

guroor na kar ae dost

गुरूर ना कर अपनी शख्सियत का ऐ दोस्त !
मेरा भी खाक़ होना है, तेरा भी खाक़ होना है !!