www.poetrytadka.com

Gareeb daman me

कुछ और तो नही है मेरे गरीब दामन में !

अगर कबूल हो तो अपने होँठोँ की हँसी दे दूँ !!

सबसे बेस्ट शायरी Click Here