www.poetrytadka.com

Fir Bhi Hasrat

मालूम है की ऐसा मुमकिन नहीं !
फिर भी हसरत रहती है की तुम याद करोगे !!