www.poetrytadka.com

ek to ye raat us pe ye barsat

एक तो ये रात उस पे ये बरसात I
एक साथ नहीं तेरा उस पर दर्द बे हिसाब !
कितनी अजीब है बात मेरे ही बस में नहीं मेरे हालात !!