www.poetrytadka.com

Dost ko daulat ki niggah

Dost ko daulat ki niggah

दोस्त को दौलत की निगाह से मत देखो !
वफ़ा करने वाले दोस्त अक्सर गरीब होते हैं !!