www.poetrytadka.com

dil wo hai

दिल वो है कि फ़रियाद से लबरेज़ है हर वक़्त !
हम वो हैं कि कुछ मुँह से निकलने नहीं देते !!