www.poetrytadka.com

dil ka kya hai

दिल का क्या है ये तो तेरी यादों के सहारे जी लेगा !
बात तो आँखों की है जो तड़पती हैं तेरे दीदार के लिए !!