www.poetrytadka.com

dil janta hai bewfa hai wo

किसे मालूम था इश्क..इस कदर लाचार करता है !
दिल जानता है बेवफा है वो.फिर भी उसी से प्यार करता है !!