www.poetrytadka.com

Dard ki dasta abhi baki hai

दर्द की दास्ताँ अभी बाकी है !
महोब्बत का इम्तेहान अभी बाकी है !
दिल करे तो फिर से वफ़ा करने आ जाना !!