www.poetrytadka.com

Bhut se aeb hai mgar

माना कि उस शख्स में, बहुत-से ऐब हैं मगर !
मेरे दिल ने भी उसको, यूँ ही तो चाहा नहीं होगा !!