www.poetrytadka.com

bhole hai rafta rafta

bhole hai rafta rafta

भूले हैं रफ़्ता-रफ़्ता उन्हें मुद्दतों में हम !
क़िश्तों में ख़ुदकुशी का मज़ा हमसे पूछिये !!