www.poetrytadka.com

bharosa karke

शक़ करके बर्बाद होने से तो
भरोसा करके लुट जाना ज्यादा बेहतर है !!