www.poetrytadka.com

bharat aazad aur ye bhar naa hota

गुल को गुलिस्तॉं से, प्यार न होता !
तो आज ये प्यारा सा ,संसार न होता !
देश के अमर शहीदों में,वो जज्बा न होता !
तो भारत आजाद और ये बहार न होता !!