www.poetrytadka.com

bewzah hoti hai mohabbat

लोग हर बार यही पूछते हैं तुमने उसमें क्या देखा !
मैं हर बार यही कहता हूँ , बेवजह होती है मोहब्बत !!