www.poetrytadka.com

Bachpan

उडने दो परींदो को अभी शोख हवा में !
फिर लौट के बचपन के जमाने नहीं आते !!