www.poetrytadka.com

Aur hum gunahgar ho gae

तेरी चाहत मे रुसवा यू सरे बाज़ार हो गये !
हमने ही दिल खोया और हम ही गुनहगार हो गये !!