www.poetrytadka.com

agar bolta to qyamat hogi

ये भी अच्चा है की बस सुनता है दिल !
अगर बोलता तो क़यामत होती !!