www.poetrytadka.com

ab kha jaroorat hai hatho me patthar

अब कहा जरुरत है हाथों मे पत्थर उठाने की !
तोडने वाले तो जुबान से ही दिल तोड देते हैं !!