www.poetrytadka.com

aaram se tanha kat rhi thi

आराम से तनहा कट रही थी तो अच्छी थी !
जिंदगी तू कहाँ दिल की बातों में आ गयी !!