www.poetrytadka.com

aankh khuli

आँख खुली तो जाग उठी हसरतें तमाम !
उसको भी खो दिया जिसको पाया था ख्वाब में !!