www.poetrytadka.com

Aaj Ka Suvichar

रिश्ते और पतंग जितनी उँचाई 
पर होते हैंकाटने वालो की संख्या 
उतनी अधिक होती है
Rishte aur patang jitni oonchai 
par hote hain kaatne vaalo ki sankhya 
utani adhik hoti hai.

किसी भी व्यक्ति को ये नहीं सोचना चाहिए 
कि वो अपनी जिन्दगी में कितना खुश है, 
बल्कि ये सोचना चाहिए कि उसकी 
वजह से कितने लोग खुश है।
Kisi bhi vyakti ko ye nahin sochna chahiye
ki wo apni zindagi me kitna khush hai.
Balki ye sochna chahiye ki uski
wajah se kitne log khush hain.

Aaj Ka Suvichar