www.poetrytadka.com

aa choo le zmin aasman ki aas naa kar

आ छुले ज़मीन आसमान की आस ना कर !
जी ले ये ज़िन्दगी खुशियों की तलाश ना कर !
गमो को कर दूर तेरी किश्मत भी बदले गी !
मुश्कुराना सीख उसे पाने की चाहत ना कर !!