Jakhm dekar na pooch

jakhm dekar na pooch

ज़ख़्म दे कर ना पूछा करो 

दर्द की तुम शिद्दत, 

दर्द तो दर्द होता हैं, थोड़ा क्या और ज्यादा क्या।💔