jala raha hai mujhe



ये क्या सितम  है‍,क्यूं रात भर सिसकता है

वो कौन है जो "दियों" में जला रहा है मुझे

from Zakhmi dil shayari


loading...