www.poetrytadka.com

Zitna bhulna chaha

तझे भूलना तो चाहा लेकिन भुला ना पाये !
जितना भुलाना चाहा तुम उतना याद आये !!