www.poetrytadka.com

Two line sher

कभी तकदीर का मातम कभी दुनिया का गिला....

 

मंजिल-ऐ-इश्क में हर गम पे रोना आया ...!!

 

@Two line sher