www.poetrytadka.com

tino bewfa hai

किसी को इतना भी न चाहो कि भुला न सको !
क्योंकि ज़िंदगी, इन्सान और मोहब्बत तीनों बेवफा हैं !!