www.poetrytadka.com



Whatsapp Messages

izzat kiya kar

‪‎इज्जत‬ किया करो ‪‎हमारी‬ वरना ‪‎Girlfriend‬ पटा लेंगे तुम्हारी !!

izzat kiya kar

hmari niyyat

हमारी नियत का पता तुम क्या लगाओगे गालिब,

हम तो नर्सरी में थे तब भी मैडम अपना पल्लू सही रखती थी !!

hmari niyyat

ghamandi

गमंडी लड़किया मुझसे दूर ही रहे क्यूंकि,

मनाना मुझे आता नहीं और भाव में किसी को देता नही !!

ghamandi

aasman chune ki

ज़मीं पर रह कर आसमां को छूने की फितरत है मेरी,

पर गिरा कर किसी को ऊपर उठने का शौक़ नहीं मुझे !!

aasman chune ki

tere papa se kah de

तेरे ‪‎पप्पा‬ से केह दे कभी हमारा

‪‎इलाक़ा‬ घुमकर देखे, सिर्फ ‪‎नाम‬ ही काफ़ी है उनके ‪‎जमाई‬ का !!

tere papa se kah de