www.poetrytadka.com



whatsapp group

whatsapp group | व्हाट्सएप ग्रुप

ek dusre ko

ek dusre ko
एक दूसरे को उसी में देख लेंगे
तेरे शहर का चाँद मेरे शहर में भी निकलता है..

aadat bna ki maine

aadat bna ki maine
आदत बना ली मैंने खुद को तकलीफ देने की
ताकि जब कोई अपना तकलीफ दे तो ज्यादा तकलीफ ना हो

whatsapp group names hindi

whatsapp group names hindi
न मिले किसी का साथ तो हमें याद करना,
तन्हाई महसूस हो तो हमें याद करना
खुशियाँ बाटने के लियें दोस्त हजारो रखना,
जब ग़म बांटना हो तो हमें याद करना

hindi shayari group whatsapp

hindi shayari group  whatsapp
सपने तो बहुत आये पर, तुमसा कोई सपनों मे न आया
फिजा मे फूल तो बहुत खिले पर, तुमसा फूल न मुसकुराया