www.poetrytadka.com



Tareef Shayari in Hindi

kitab likh deta

kitab likh deta

तेरे हुस्न पर तारीफ भरी किताब लिख देता

काश के तेरी वफ़ा तेरे हुस्न के बराबर होती

tere husn ki tareef

tere husn ki tareef

तेरे हुस्न की तारीफ मेरी शायरी के बस की नहीं

तुझ जैसी कोई और कायनात में बनी नहीं 

teri tareef karu

teri tareef karu

सोचता हु हर शायरी पे तेरी तारीफ करु

फिर खयाल आया कहीँ पढ़ने वाला भी तेरा दीवाना ना हो जाए।