Poetry Tadka

सुविचार संग्रह hindi

सुविचार संग्रह hindi | विचार संग्रह | suvichar sangrah

रिश्ता बहुत गहरा हो या ना हो 

भरोषा गहरा होना चाहिए 

bharosha

bharosha  suvichar sangrah hindi

ज़िन्दगी में कभी किसी को बेकार मत समझना 

क्युकी बंद घड़ी भी दिन में दो बार सही समय बताती है 

kisi ko bekaar na samajhna

kisi ko bekaar na samajhna

दुसरो की घर की लड़की की इज्ज़त वही करता है 

जो अपने घर की लड़की की इज्ज़त करता है 

ladkiyo ki izzat

ladkiyo ki izzat suvicha sungrah

ख़ुशी के लिए काम करोगे तो ख़ुशी नहीं मिलेगी 

खुश रहकर काम करोगे तो ख़ुशी और सफलता दोनों मिलेगी 

khush ho ke kaam karo

khush ho ke kaam karo suvichar sungarh hindi

ज़िन्दगी में कुछ गलत हो जाए तो घबराना मत क्युकी 

ढूध फटने से वही घबराते है जिन्हें पनीर बनाना नहीं आता 

ghabrana mat

ghabrana mat suvichar sungrah hindi

अच्छा काम करते रहो कोई सम्मान करे या ना करे 

सूर्य यदय तब भी होता है जब करोड़ो लोग सोये रहते है 

acha kaam karte raho

acha kaam karte raho suvichar sungrah hindi

नजर का आँपरेशन तो सम्भव है 

लेकिन नजरिया का नहीं 

nazar ka apresan

suvichar sangrah hindi nazar ka apresan

दोस्ती कभी खाश लोगो से नहीं होती 

जिससे हो जाती है वही खाश हो जाते है

khash dosti

suvichar sangrah khash dosti

जीत की आदत अच्छी है मगर 

कुछ रिश्तो में हार जाना बेहतर है 

haar jana

suvichar sangrah hindi haar jana

दोपहर तक बिक गया बाजार में हर एक झूठ 

और मै सच बोल कर साम तक बैठा रहा 

sam tak baitha rha

suvichar sangrah hindi sam tak baitha raha
priv12next