www.poetrytadka.com

Smile Status

Muskan ke siva

मुस्कान के सिवा कुछ न लाया कर चेहरे पर

मेरी फ़िक्र हार जाती है तेरी मायूसी देखकर

Meri muskan me tum

किस किस तरह से छुपाऊँ तुम्हें मैं

मेरी मुस्कान में भी नज़र आने लगे हो तुम

Ek muskan

एक पहचान हज़ारो दोस्त बना देती हैं

एक मुस्कान हज़ारो गम भुला देती हैं

ज़िंदगी के सफ़र मे संभाल कर चलना

एक ग़लती हज़ारो सपने जला कर राख देती है

Muskurate hai

हर कोई परख लेता है हर किसी को..

कुछ कह कर रिश्ते तोड़ देते हैं, 

कुछ चुप रह कर रिश्ते निभाते रहते हैं

कुछ चुप रह कर मुश्कुराते है 

Tere chehre ki muskan

मेरे चेहरे की हर मुस्कान बयाँ करती

तेरी चाहत को कभी तू भी देख इन

आँखों में तस्वीर सिर्फ तेरी ही नज़र आएगी