www.poetrytadka.com

Silent Shayari

Mere zindagi ka swal hai

mere zindagi ka swal hai

मै तबाह हूँ तेरे प्यार में तुझे दुसरो का ख्याल है 

कुछ मेरे मसले पे गौर कर मेरे ज़िन्दगी का सवाल है

Na karta sikayat

ना करता सिकायत जमाने से कोई 

अगर मान जाता मनाने से कोई 

किसी को क्यों याद करता कोई 

अगर भूल जाता भुलाने से कोई 

 

Tera wada

tera wada

मेरा क्या हाल है तेरे बिना कभी देख तो ले 

जी रहा हु तेरा भूला हुआ वादा बन कर 

Chup rahna hi accha hai

chup rahna hi accha hai

यदि कहने के लिए कुछ अच्छा नहीं है 

तो चुप रहना ही एक अच्छा विकल्प है 

Aap ka har pal

आप का हर लम्हा गुलाब हो जाए 

आप का हर पल सवाब हो जाए 

जिन पे बरसती है खुदा की रहमत 

आप का नाम भी उनपे सुमार होजाए 

सबसे बेस्ट शायरी Click Here